मध्यप्रदेशरतलाम

झोलाछाप डॉक्टर द्वारा इंजेक्शन लगाने के बाद 11 वर्षीय बलिका की मौत हो गई।

रतलाम
रतलाम जिले के ग्रामीण क्षेत्र में एक झोलाछाप डॉक्टर द्वारा इंजेक्शन लगाने के बाद 11 वर्षीय बलिका की मौत हो गई। बालिका के परिजन उसे जीवित समझ कर उसे बाल चिकित्सालय पहुंचे जहा मौजूद डॉक्टरों ने जांच कर उसे मृत घोषित कर दिया।

जानकारी के अनुसार रतलाम के डीडी नगर थाना क्षेत्र के ग्राम पलसोड़ी निवासी सविता पिता सुखराम डोडियार 11 वर्षीय के सिर पर किसी कारणवश घाव हो गया था । जिसके बाद उसके पिता द्वारा उसे गांव के गौतम बंगाली नामक डॉक्टर के क्लिनिक पर ले जाया गया। जहां डॉक्टर ने उसके घाव को सुखाने के लिए एक इंजेक्शन लगाया। इंजेक्शन लगने के कुछ देर में ही सविता अचेत हो गई।
जिस पर डॉक्टर गौतम बंगाली ने कहा कि इसका इलाज यहां नहीं हो सकेगा। जिसके बाद परिजन बालिका को अचेत अवस्था में बाल चिकित्सालय रतलाम लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर द्वारा जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। बाल चिकित्सालय के डॉक्टर के अनुसार अस्पताल पहुंचने के पहले ही उसकी मोत हो गई थी। परिवार में मासूम की ऐसी मौत से परिजनों पर दुःखो का पहाड़ टूट पड़ा। फिलहाल पुलिस ने मर्म कायम कर जांच शुरू कर दी है

पब्लिक टीवी लाइव 24x7

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button